बैकरेट बेटिंग स्किल्स फोरम

Publishing time:2021-10-21 17:38:16

क्रिकेट पिच की जानकारी बैकरेट बेटिंग स्किल्स फोरम betway नया संस्करण,लियोवेगास कॉम एनजेड मोबाइल,lovebet 803,lovebet केन्या ऐप लॉगिन,lovebet अपडेट,5d शतरंज पहेलियाँ,बैकारेट ब्रांड,बैकारेट पंजीकरण और खाता खोलना,नंबर पांच का सर्वश्रेष्ठ,नकद बुलफाइट,कैसीनो पेरिस,संगीत शतरंज,क्रिकेट पोशाक,फ्लोरिडा में दिन कैसीनो परिभ्रमण,यूरोपीय कप समूह सूची,फुटबॉल पसंदीदा सिफारिश,जुआ वेबसाइट कोशिश कर सकती है,खुश किसान xo,इंडिबेट अर्थ,जैकपॉट खेल क्लीवलैंड,लिगिबेट जैकपॉट गेम्स,लाइव रूल एटीई फ्री बोनस नो डिपॉजिट,लॉटरी पीएम,ऑनलाइन पैसे कमाएं गोल्डन सिटी,ऑस्ट्रेलिया में ऑनलाइन कैसीनो,ऑनलाइन बड़े पैमाने पर मनोरंजन शहर,ऑनलाइन स्लॉट वर्जीनिया,पोकर ए स्ट्रेट,पोकरट्रैकर 4 डाउनलोड,रूले एक्सट्रीम 2.0,रमी मोबाइल एक्सटेंशन,श लॉटरी परिणाम,स्लॉट रानी,खेल अद्यतन,तीन पत्ती स्टार कस्टमर केयर नंबर,सबसे विश्वसनीय नेट,वास्तविक क्रिकेट खोज,विश्व कप फुटबॉल सट्टेबाजी खाता,असली पैसे का खेल hdfc bank,कैटरीना पानी,खेलो पर जुआ hindi,जोकर ट्यून,फल स्वर्ग,बेटा एचडी अनिल कपूर,लाटरी गेम,स्टेटस शेयर चैट, .New Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये

http://img95.699pic.com/photo/40037/1647.jpg_wh300.jpg?67016

New Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये

Story outline

  • मोदी सरकार ने कोरोना काल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं
  • इसमें कोरोना का टीका लगवाने से लेकर खुद को अलग रखने तक के नियम शामिल हैं
  • यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी
  • स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी
नई दिल्ली
New Rules For International Travelers: सरकार ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए बुधवार को संशोधित दिशानिर्देश जारी किए। इन संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार जिन यात्रियों को टीके की सभी खुराक लगी हुई हैं और एक ऐसे देश से आने वाले यात्रियों को हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जायेगी जिसके साथ भारत ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) द्वारा अनुमोदित कोविड-19 टीकों की पारस्परिक स्वीकृति के लिए परस्पर व्यवस्था की है और ऐसे यात्रियों को 25 अक्टूबर से पृथक-वास में रहने और जांच की जरूरत नहीं होगी।

हालांकि, उन्हें एक नकारात्मक कोविड-19 आरटी-पीसीआर रिपोर्ट पेश करनी होगी। यदि टीकाकरण नहीं किया गया है, तो यात्रियों को ऐसे उपाय करने होंगे जिनमें आगमन के बाद कोविड-19 जांच के लिए नमूना देना शामिल है, जिसके बाद उन्हें हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी, और उन्हें सात दिनों के लिए पृथक-वास में रहना होगा।

दिशानिर्देशों के अनुसार भारत में पहुंचने के आठवें दिन उनकी फिर से जांच होगी और यदि रिपोर्ट नकारात्मक आती है तो उन्हें अगले सात दिनों तक अपने स्वास्थ्य की खुद से निगरानी करनी होगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय आगमन के लिए 17 फरवरी, 2021 को और उसके बाद इस विषय पर दिशानिर्देश जारी किये गये थे लेकिन अब ये संशोधित दिशानिर्देश मान्य होंगे।

मंत्रालय ने कहा, "दुनियाभर में टीकाकरण का बढ़ता दायरा और महामारी की बदलती प्रवृत्ति को देखते हुए, भारत में अंतरराष्ट्रीय आगमन के मौजूदा दिशानिर्देशों की समीक्षा की गई है। यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी। उसने कहा कि जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी।"

पेट्रोल-डीजल सस्ते होने के आसार, पीएम मोदी ने की दुनिया भर की तेल कंपनियों के सीईओ से हाई लेवल मीटिंग!

भारत ने इन 11 देशों के साथ किया है समझौता
मंत्रालय के अनुसार, भारत ने 11 देशों ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी, नेपाल, बेलारूस, लेबनान, आर्मेनिया, यूक्रेन, बेल्जियम, हंगरी और सर्बिया के साथ राष्ट्रीय स्तर पर या डब्ल्यूएचओ द्वारा मान्यता प्राप्त कोविड-19 टीकों की पारस्परिक मान्यता के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं।

इन देशों से आने वाले यात्री जिन्हें टीके की सभी खुराक लगाई गई हैं और कोविड-19 टीकाकरण पूरा होने के 15 दिन बीत चुके हैं, उन्हें संशोधित दिशानिर्देशों के अनुसार, हवाई अड्डे से बाहर जाने की अनुमति दी जाएगी और आगमन के बाद 14 दिनों के लिए अपने स्वास्थ्य की निगरानी करनी होगी।

दिशानिर्देशों के अनुसार यात्रा की योजना बनाते समय, सभी यात्रियों को निर्धारित यात्रा से पहले ऑनलाइन हवाई सुविधा पोर्टल पर स्व-घोषणा पत्र जमा कराना चाहिए और एक नकारात्मक कोविड-19 आरटी-पीसीआर रिपोर्ट अपलोड करनी चाहिए। दिशानिर्देशों के अनुसार यात्रा शुरू करने से 72 घंटे पहले यह जांच की जानी चाहिए।

एयर इंडिया फिर टाटा की झोली में, क्या लौट पाएगी खोई हुई प्रतिष्ठा?

कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया (Air India), अपने पुराने मालिक के पास लौट आई है। एयर इंडिया के लिए विनिंग बिड टाटा सन्स की इकाई ने जीती है। यह सौदा इस साल दिसंबर के अंत तक पूरा हो जाने की उम्मीद है।

In Video: एयर इंडिया फिर टाटा की झोली में, क्या लौट पाएगी खोई हुई प्रतिष्ठा?

टॉपिक

guidelines for international travelersnew rules for international travelersguidelines in coronavirus timecoronavirus in indiaअंतराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए नियम

ETPrime stories of the day

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’
Strategy

Tech on board: Chalo navigates the tricky terrain of mass mobility with its ‘OS for buses’

8 mins read
Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle
Aviation

Rahul vs. Rakesh: turbulence ahead for IndiGo as promoters turn up the heat in legal battle

10 mins read
Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.
Banking

Inside story of how Centrum and BharatPe ‘unified’ for their banking dream. But challenges start now.

15 mins read
New Rules For International Travelers: अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए मोदी सरकार ने जारी किए नए नियम, जानिए क्या हैं ये

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) ताप बिजलीघरों में कोयले की कमी बरकरार है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, खानों से दूर स्थित चार दिन से कम कोयला भंडार (सुपर क्रिटिकल स्टॉक) वाले बिजली संयंत्रों की संख्या मंगलवार को बढ़कर 61 पर पहुंच गयी। केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण (सीईए) के कोयला भंडार पर ताजा आंकड़ों के अनुसार, खानों से दूर स्थित चार दिन से कम के कोयला भंडार वाले बिजली संयंत्रों की संख्या 19 अक्टूबर को बढ़कर 61 पहुंच गयी जो 18 अक्टूबर को 58 थी। आंकड़ों से पता चलता है कि चार दिन के कोयला भंडार वाले बिजलीघरों की संख्या पिछले सप्ताहनयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी नाल्को ने बुधवार को ओडिशा के अंगुल में कंपनी की ‘लीन स्लरी’ (राख, गारे को निकालने की व्यवस्था) परियोजना के उद्घाटन की घोषणा की। ‘लीन स्लरी’ परियोजना के पूरा होने से कंपनी के निजी बिजली संयंत्र या कैप्टिव पावर प्लांट (सीपीपी) में उत्पन्न राख का 100 प्रतिशत उपयोग सुनिश्चित होगा। यह पर्यावरण अनुकूल और टिकाऊ संचालन के प्रति अपनी प्रतिबद्धता में एक बड़ा कदम है। बयान में कहा गया, ‘‘खान मंत्रालय के सचिव, आलोक टंडन (आईएएस) ...महाराष्ट्र सरकार ने कोयले का अतिरिक्त भंडार लेने से इनकार कर दिया था : दानवे

New Rules For International Travelers: मोदी सरकार ने कोरोना काल में सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसमें कोरोना का टीका लगवाने से लेकर खुद को अलग रखने तक के नियम शामिल हैं। यह मानक संचालन प्रक्रिया 25 अक्टूबर से अगले आदेश तक वैध रहेगी। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से जोखिम आकलन के आधार पर दिशानिर्देशों की समय-समय पर समीक्षा की जाएगी।नयी दिल्ली, 21 अक्टूबर (भाषा) वैश्विक ऊर्जा कंपनी बीपी पीएलसी ने बृहस्पतिवार को कहा कि वह रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ साझेदारी में मुंबई के पास 'जियो-बीपी' ब्रांड के तहत अपना पहला पेट्रोल पंप खोलने जा रही है। गौरतलब है कि ब्रिटिश कंपनी ने 2019 में एक अरब डॉलर में रिलायंस के स्वामित्व वाले 1,400 से अधिक पेट्रोल पंप और 31 एविएशन टर्बाइन फ्यूल (एटीएफ) स्टेशनों में 49 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी। रिलायंस के मौजूदा पेट्रोल पंपों को इसके बाद दोनों कंपनियों के संयुक्त उद्यम रिलायंस बीपी मोबिलिटी लि. के अधीन कर दिया गया। संयुक्त उद्यम 'जियो-बीपी' ब्रांड के तहत काम करेगा।शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 250 अंक से ज्यादा उछला, निफ्टी 18,350 के पार

नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) एयरोस्पेस और रक्षा क्षेत्र की कंपनी रोल्स रॉयस ने बुधवार को कहा कि वह भारतीय नौसेना के 'फ्लीट ऑफ द फ्यूचर' के लिए इलेक्ट्रिक युद्धपोतों के विकास के लिए उसके साथ साझेदारी करने को इच्छुक है। रोल्स रॉयस ने एक बयान में कहा कि कंपनी भारतीय नौसेना के ग्राहकों को ब्रिटेन के आगामी कैरियर स्ट्राइक ग्रुप टूर के तहत भारत की नौसेना आधुनिकीकरण आवश्यकताओं के लिए अनुकूलित बिजली और प्रणोदन समाधान के डिजाइन, निर्माण और वितरित करने की अपनी क्षमताओं का प्रदर्शन करने के लिए तैयार है।नयी दिल्ली, 20 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने बुधवार को स्पष्ट किया कि भारत आनुवंशिक रूप से परिष्कृत (जीएम) चावल का निर्यात नहीं करता है क्योंकि देश में ऐसी फसल की कोई व्यावसायिक किस्म नहीं है और इसकी खेती भी यहां प्रतिबंधित है। वाणिज्य मंत्रालय का स्पष्टीकरण भारत से कथित जीएम चावल से जुड़ी खाद्य वस्तुओं के निर्यात की खेप को वापस लेने के संबंध में एक रिपोर्ट के बाद आया है। मंत्रालय ने बयान में कहा, ‘‘यह स्पष्ट किया जा सकता है कि भारत में जीएम चावलखान सचिव ने ओडिशा में नाल्को की ‘लीन स्लरी’ परियोजना का उद्घाटन किया

स्रोत: Nanfang Daily Online    Editor in charge: hit


lovebet 8 गुना
ऑनलाइन पोकर आँकड़े
गो2 लवबेट
lovebet 35/1 इंग्लैंड
स्टेटस सॉन्ग
गोवा थापा का कुश्ती
क्रिकेट डिलीवरी
गोवा राज्य
ऑनलाइन गेम खेलना है
रम्मीकल्चर खेल विवरण
बैकारेट जिंफू ऑनलाइन
करीना जिंदाबाद
फ़ुटबॉल आई एस एल पॉइंट टेबल
बैकारेट की यिन संख्या का क्या अर्थ है?
स्लॉट मशीन.आईटी
पोकर किकर
यूरोपीय कप मकाऊ सट्टेबाजी
सीरी बी लवबेट
शतरंज का खेल ऑनलाइन
जैकपॉट क्या होता है
ऑनलाइन पोकर एक्सबॉक्स वन
बोनस कैसीनो निकासी
कैसीनो खोलना
मैं कैसीनो ऐप
यूरो sports
कॉमनवेल्थ ऑफ क्रिकेट बुक रिव्यू
तीन पत्ती ऑक्ट्रो डाउनलोड