ऑनलाइन बेटिंग प्लेटफॉर्म रैंकिंग

ऑनलाइन बेटिंग प्लेटफॉर्म रैंकिंग

time:2021-10-25 22:29:55 क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद Views:4591

क्रिकेट किट बैग ऑनलाइन बेटिंग प्लेटफॉर्म रैंकिंग 188bet तंपा ब्लोकिर,fun88 बोला,lovebet 2500 बोनस,lovebet गेम,lovebet s-h,lovebet मूवीज,बैकारेट 540 डुपे,बैकरेट लाइव नेटवर्क,सर्वश्रेष्ठ पांच अभ्यास,लाठी लाइव राल,कैसीनो सोना,शतरंज 14 चाल नियम,क्रिकेट 7 मुफ्त डाउनलोड करें,क्रिकेट थीम केक,ई-स्पोर्ट्स या एस्पोर्ट्स,फुटबॉल 6 यार्ड बॉक्स,फुटबॉलर डा सिल्वा,हैक fun88,प्वाइंट रम्मी कैसे खेलें,क्या ऑनलाइन बैकरेट वास्तविक और विश्वसनीय है,कश्मीर शतरंज की किताबें,लाइव कैसीनो ऑनलाइन,लॉटरी फैक्स नागालैंड,लूडो ऑनलाइन गेम पैसे कमाएं,वनप्लस 7 बीटा 12,ऑनलाइन गेम आइस ब्रेकर,ऑनलाइन सिक बो खेल कैसीनो,प्लेस 6 लवबेट,पोकर सीधे बाल,रूले परिभाषा,रम्मी 40,रम्मीकल्चर नया संस्करण डाउनलोड,स्लॉट 4 मज़ा,खेल एच एंड एम,टी फुटबॉल शेड्यूल,सर्वश्रेष्ठ प्रतिष्ठित जुआ वेबसाइट,अपोकर क्लब,सट्टेबाजी के लिए कौन सा बेहतर है?,BC स्पोर्ट्स,ऑनलाइन बेटिंग वेबसाइट,क्रिकेट छोटू की कॉमेडी,ग्रीष्मकालीन स्थानांतरण,तीन पत्ती हैप्पी,बरसात ऋतु पर निबंध,महाराष्ट्र chess,स्टेटस किसे कहते हैं, .क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? ये 6 बातें करेंगी आपकी मदद

एमबीए करने के लिए आपके पास मजबूत कारण होना चाहिए.
क्‍या आप एमबीए करना चाहते हैं? अगर हां तो इसके लिए सही तैयारी और जानकारी दोनों जरूरी हैं. एमएबीए की डिग्री आपके करियर को पंख लगा सकती है. यहां हम बता रहे हैं कि अच्‍छे बी-स्‍कूल से एमबीए करने के लिए आप कैसे तैयारी कर सकते हैं.

1. अभी बी-स्‍कूल क्‍यों?
एमबीए करने के लिए आपके पास मजबूत कारण होना चाहिए. मौजूदा स्थितियों से भागना इसके पीछे वजह नहीं होनी चाहिए. इसके लिए पहला ठोस कारण यह हो सकता है कि आप फाइनल ईयर के स्‍टूडेंट या फ्रेश ग्रेजुएट हों और अच्‍छी शुरुआत करने के लिए मौका न मिल रहा हो.

अच्‍छे ब्रांड से दो साल का एमबीए मार्केट की बदली हुई स्थितियों में काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. पहली अच्‍छी नौकरी जरूरी है. यह हर साल आपकी सैलरी को कई गुना रफ्तार से बढ़ाती है. एमबीए करने का दूसरा कारण यह हो सकता है कि आप कर‍ियर में स्विच करना चाहते हैं क्‍योंकि या तो आपको वह पसंद नहीं है या फिर जिस इंडस्‍ट्री में आप काम करते हैं, उसे काफी नुकसान हुआ है. यह इंडस्‍ट्री ट्रैवल, हॉस्पिटैलिटी या टेलीकॉम हो सकती है.

एमबीए की डिग्री आपको विश्‍वसनीयता हासिल करने में मदद करती है. फिर चाहे आपने किसी भी सेक्‍टर में काम किया हो. अंतिम कारण यह हो सकता है कि आप अपने डोमेन में स्‍पेशलिस्‍ट बनकर रहने के बजाय सामान्‍य प्रबंधन करना चाहते हैं. इसके अलावा कोई दूसरा कारण एमबीए करने के लिए नहीं होना चाहिए. याद रखें कि एमबीए करना ज्‍यादा पैसा बनाने की गारंटी नहीं है.

2. कैसे करें बी-स्‍कूल का चयन?
सबसे पहले देख लें कि आप किस देश में अपना करियर बनाना चाहते हैं? अधिकतम अवसरों के लिए उसी देश में एमबीए प्रोग्राम चुनें. इसके बाद सबसे विश्‍वसनीय एमबीए ब्रांडों का पता लगाएं. यह काम न्‍यूज आर्टिकल और एमबीए कर चुके छात्रों से बातचीत के माध्‍यम से किया जा सकता है. वह ब्रांड आपके सीवी में जीवनभर रहेगा. इसमें कितनी लागत आएगी, अवधि कितनी होगी (एग्‍जीक्‍यूटिव के लिए दो साल या उससे कम), एजुकेशन लोन कितना लेना होगा, एमबीए प्लेसमेंट कैसा है और परिवार से दूरी, ये कुछ और फैक्‍टर हैं, जिन्‍हें देखने की जरूरत होगी.

3. टाइम मैनेजमेंट कैसे करें?
अंत में अपनी पसंद के कॉलेज में दाखिले के लिए तैयारी शुरू कर दें. हर एक एमबीए प्रोग्राम में चयन की अलग-अलग जरूरतें होती हैं. कड़ी डेडलाइन रखी जाती हैं. यह फेज पूरी तरह से समय और ऊर्जा के प्रबंधन से जुड़ा है. यदि आप नौकरी छोड़ते समय या अपने कॉलेज शेड्यूल को संतुलित करते हुए कई एप्‍लीकेशनों पर विचार कर रहे हैं, तो यह एक कठिन काम है. यानी पहले प्रयास में कामयाबी मिले, इसकी गारंटी नहीं है. तमाम एमबीए में आवेदन प्रक्रिया के विभिन्न चरणों के लिए समयसीमा नोट करें. योग्यता को पूरा करने के लिए पर्याप्त समय लेकर चलें.

4. टेस्‍ट में कैसे पाएं कामयाबी?
एमबीए में दाखिले के लिए आमतौर पर प्रवेश परीक्षा के स्‍कोर की जरूरत होती है. इंटरनेशनल और एग्‍जीक्‍यूटिव एमबीए के लिए यह आमतौर पर जीमैट होता है. जबकि भारतीय बी-स्कूलों के लिए यह कैट/ सीईटी/ मैट/अन्य हो सकता है. जीमैट के लिए 700+ स्कोर काफी अच्‍छा है. इसे गंभीरता से लिया जाता है. भारत में एमबीए के लिए टेस्‍ट स्कोर अक्सर इंटरव्‍यू के लिए शॉर्टलिस्ट करने का सबसे बड़ा फैक्‍टर होता है. अच्‍छा स्‍कोर सुनिश्चित करने के दो आसान तरीके हैं.

पहला, लगभग 30 उच्च गुणवत्ता वाले मॉक प्रश्न पत्र और उनका हल जुटा लें. हर दिन कम से कम एक का हल करें और उन प्रश्नों के समाधान में महारत हासिल करें, जो आपको अटकाते हैं. एक बार जब आप पूरे लॉट को खत्म कर लें तो पहले पेपर पर वापस जाएं और प्रक्रिया को दोहराएं. दो-तीन महीने में तीन से चार साइकिल पूरे करें. दूसरा चरण तैयारी के लिए अनुशासन खोजना है. अनुशासन के लिए आप कोचिंग क्‍लास ज्‍वाइन कर सकते हैं.

5. निबंध लेखन में कुशलता कैसे हासिल करें?
अब आपके प्रयास टीम पर निर्भर करेंगे. यह काम अकेले न करें. अगर चयन प्रक्रिया में आपके जीवन और करियर के बारे में सवालों के जवाब में कुछ निबंधों की आवश्यकता होती है तो आपको अपने काम को पढ़वाने के लिए लोगों की जरूरत होगी. लेखन के लिए सही नजरिया अपने जीवन और प्रेरणाओं की समीक्षा करना और इसे कहानीकार की तरह बताना है.

6. बातचीत में कैसे कुशल बनें?
इंटरव्‍यू प्रोसेस अंतिम बाधा है और वर्तमान में यह वीडियो कॉल पर हो रही है. यह भी एक महत्वपूर्ण टीम वर्क है. निबंध सब्मिट करने के बाद इंटरव्‍यू में शॉर्टलिस्ट की प्रतीक्षा न करें. 100 स्‍टैंडर्ड एमबीए इंटरव्‍यू क्‍वेस्‍चन डाउनलोड करें और तुरंत मॉक इंटरव्यू शुरू कर दें. इसके लिए परिवार के सदस्‍यों और मित्रों की मदद ली जा सकती है.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

एमबीएइंटरव्‍यू प्रोसेसनिबंध लेखन

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read

ब्‍याज दरों में कटौती का फैसला वापस होने के बाद एक सामान्‍य धारणा बनी. वह यह थी कि चुनावों को देखते हुए यह फैसला लिया गया.बाजार नियामक सेबी ने एक्सपेंस रेशियो की सीमा तय की हुई है. ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम के एयूएम के आधार पर सेबी ने विभिन्न स्‍लैब बनाए हैं.म्यूचुअल फंडों का एयूएम 41% बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये पहुंचा

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.फ्रैंकलिन टेम्पलटन के निवेशकों को इस हफ्ते मिलेंगे 2,962 करोड़ रुपये

शेयरों में निवेश से जुड़े जोखिम के अलावा इंटरनेशनल फंड में निवेश से करेंसी का जोखिम भी जुड़ा होता है. दूसरे देश की मुद्रा के मुकाबले रुपये में कमजोरी और मजबूती का असर आपके रिटर्न पर पड़ता है.सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.नियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
कौन सा बहतर है?

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.

करीना जिंदाबाद

पहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.

बैकारेट केतली

नेशनल पेंशन सिस्टम (एनपीएस) में लोगों की दिलचस्पी बढ़ाने की कई कोशिश की जा रही है.

शतरंज 4 खिलाड़ी

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

रम्मी कैश गेम

कई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी