ईफुटबॉल सीजन कार्यक्रम

ईफुटबॉल सीजन कार्यक्रम

time:2021-10-25 21:56:09 डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक? Views:4591

फुटबॉल किक कैलकुलेटर ईफुटबॉल सीजन कार्यक्रम 188bet आइल ऑफ मैन,casumo टेस्ट,lovebet १०० बोनस कोड,lovebet epe30,lovebet प्रोमो कोड,lovebet88वीएन। जाल,बीए फुटबॉल एसोसिएशन,बैकरेट इंटरनेशनल,बैकारेट की सबसे वैज्ञानिक सट्टेबाजी पद्धति,बेटिंग बनाम ट्रेडिंग,कैसीनो डेमो,कैसिनोडेज़ ज़ोन,कूलमैथगेम्स/0-शतरंज,क्रिकेट प्रश्नोत्तरी,एस्पोर्ट्स गेमिंग माउस,मछली पकड़ने की भीड़ नदी,सप्ताहांत फुटबॉल,वैश्विक मनोरंजन ऑनलाइन,baccarat में सड़क को कैसे देखें,आईपीएल जी न्यूज,जंगल रम्मी कैश APK,लाइव कैसीनो होटल फिलाडेल्फिया,लॉटरी बाबा पुराना परिणाम,लूडो हैक ऐप,हे शतरंज नान,ऑनलाइन गेम एप्लीकेशन,ऑनलाइन पोकर असली पैसे जीतते हैं,पारिमैच नियम और शर्तें,पोकर पर पोकर,10cric . की समीक्षा,नियम x राजदूत गीत,रम्मीकल्चर डाउनलोड पीसी,स्लॉट मशीन वीडियो,खेल श्रेणियां,स्पोर्ट्सबुक स्वागत बोनस,ऑनलाइन दोस्तों के साथ टेक्सास होल्डम,यूईएफए चैंपियंस लीग फुटबॉल बिग नेम लेवल 7,कौन सी बैकारेट वेबसाइट सुरक्षित है,स्थिति 3/4 लवबेट,ऑनलाइन जुआ कैसे खेले,क्रिकेट आईपीएल लाइव,गोवा बीच फोटो,तीन पत्ती धनी,बकरी अनुसंधान केंद्र,बैकारेट mp3,सुपर बवंडर, .डॉ रेड्डीज लैब के शेयरों में क्‍यों निवेश की सलाह दे रहे हैं विश्लेषक?

42 में से 36 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. वहीं, 5 ने इसे होल्‍ड करने की राय दी है.
डॉ रेड्डीज लैब (डीआरएल) ने वित्त वर्ष 2020-21 की तीसरी तिमाही में ठीक ठाक नतीजे दर्ज किए हैं. सालाना आधार पर इसके कुल रेवेन्‍यू में 12 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस दौरान घरेलू रेवेन्‍यू में 26 फीसदी, अमेरिकी रेवेन्‍यू में 9 फीसदी और यूरोपीय रेवेन्‍यू में 34 फीसदी की बढ़ोतरी हुई. हालांकि, ये आंकड़े बाजार की उम्मीदों से कम थे. हाल में इस शेयर की कीमतों में गिरावट आने का यही कारण था. विश्लेषक कहते हैं कि कीमत में यह कमी इस शेयर में एंट्री का मौका देती है.

छोटी अवधि में ऐसी कई बातें हैं जो डॉ रेड्डीज के शेयरों को बल दे सकती हैं. इसके चलते भी विश्लेषकों की इस शेयर में दिलचस्पी बढ़ी है. कंपनी ने रूस की कोविड वैक्सीन स्पुतनिक का लाइसेंस प्राप्त किया है. यह मंजूरी का इंतजार कर रही है. नियामक संबंधी प्रकिया पूरी होने में समय लगता है. लेकिन, विश्लेषकों को इसके सकारात्मक नतीजे मिलने की उम्‍मीद है. कारण है कि इसी टेक्नोलॉजी पर आधारित दूसरी वैक्‍सीनों ने क्‍लीनिकल टेस्‍ट में अच्‍छे नतीजे दिखाए हैं.

इसे भी पढ़ें : मुझे रिटायरमेंट के लिए 21 साल में 1 करोड़ रुपये जुटाना है, कैसे प्‍लान बनाऊं?

एक बार मंजूरी मिलने के बाद कंपनी की योजना भारत के साथ अन्‍य देशों में इसकी मार्केटिंग करने की है. यह काम सरकार और प्राइवेट वैक्‍सीन प्रोग्राम के तहत किया जाएगा. रूस और कॉमनवेल्थ देशों में बाजार के समीकरण भारत जैसे हैं. यहां ब्रांडेड और ओटीसी दवाओं पर फोकस बढ़ा है. इस दिशा में पहले कदम बढ़ा देने से डॉ रेड्डीज को पहले ही फायदा मिला है. स्पुतनिक के निर्यात से कंपनी को और फायदा हो सकता है.

अमेरिकी बाजार में कंपनी कई प्रोडक्‍ट लॉन्‍च करने वाली है. छोटी अवधि में यह भी इसके शेयरों में हवा देगा. डॉ रेड्डीज लैब के कुल मार्केट में अमेरिका की हिस्सेदारी करीब 37 फीसदी है.

डीआरएल की प्रोडक्‍ट पाइपलाइन काफी मजबूत है. नए लॉन्‍च होने वाले ज्यादातर प्रोडक्‍ट जटिल और खास प्रोडक्‍ट सेगमेंट के हैं. डॉ रेड्डीज लैब ने अमेरिका में अक्टूबर 2020 में कुवान का जेनरिक वर्जन लॉन्‍च किया था. यह इसका पाउडर वर्जन जल्‍द लॉन्‍च करने वाली है. चूंकि, पाउडर वर्जन की मार्केट हिस्सेदारी 70 फीसदी है. लिहाजा, आने वाली तिमाहियों में डीआरएल को इस प्रोडक्‍ट से ज्यादा रेवेन्यू पाने में मदद मिल सकती है.

इसे भी पढ़ें : कैसा है एलएंडटी टैक्‍स एडवांटेज म्‍यूचुअल फंड का 5 साल का रिपोर्ट कार्ड?

एपीआई की किल्लत के चलते विलंब के बावजूद डीआरएल अपनी जेनेरिक दवा वासेपा को जल्‍द लॉन्‍च करने के लिए प्रतिबद्ध है. 2021-22 के दौरान वह धीरे-धीरे इसका उत्पादन बढ़ाएगी.

अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है. कुछ दवाओं को लेकर इसका दबदबा रहा है. यह फ्री कैश फ्लो (एफसीएफ) भी जनरेट कर रही है. 42 में से 36 विश्लेषक इस शेयर में खरीद की सलाह दे रहे हैं. वहीं, 5 ने इसे होल्‍ड करने की राय दी है. 1 का कहना है कि इसे बेचना चाहिए.

master9

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें

टॉपिक

डॉ रेड्डीज लैबरेवेन्‍यूनिवेश की सलाहतीसरी तिमाही के नतीजेडीआरएलदवाविश्‍लेषक

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.इंडेक्‍स फंडों की तरह ईटीएफ अमूमन किसी खास मार्केट इंडेक्स को ट्रैक करते हैं. इनका प्रदर्शन उस इंडेक्‍स जैसा होता है.दिवाली से पहले बैंक कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, 15% बढ़ेगा वेतन

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.एक साल पहले इस फंड के अनुभवी मैनेजर ने इस्तीफा दिया. हालांकि, स्‍कीम की बागडोर मजबूत प्रबंधन के हाथों में है. निवेश के तरीके में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है.कितनी सेफ है आपकी जॉब? खतरों के इन 7 संकेतों के बारे में जान लें

पिछले 10 साल में ओएनजीसी अपने उत्पादन में कोई बड़ी बढ़ोतरी करने में नाकामयाब रही है.जब संस्‍थान में किसी कर्मचारी को नौकरी छोड़ने के लिए कहा जाता है तो वे आमतौर पर चौंक जाते हैं. लेकिन, कई मामलों में इसके संकेत पहले से मिलने लगते हैं. बात सिर्फ इतनी होती है कि कर्मचारी इन संकेतों का मतलब समझकर सुधार की दिशा में कदम नहीं उठा पाते हैं. आइए, यहां ऐसे ही कुछ संकेतों के बारे में जानते हैं.कैसा है एलएंडटी टैक्‍स एडवांटेज म्‍यूचुअल फंड का 5 साल का रिपोर्ट कार्ड?

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
365 नए फुटबॉल सट्टेबाजी नेटवर्क नेविगेशन

नौकरी जॉबस्पीक्स इंडेक्स की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक, डिजिटल बदलाव की लहर में सूचना प्रौद्योगिकी-सॉफ्टवेयर क्षेत्र लगातार इससे बचा हुआ है.

lovebet शिकायत संख्या

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

आई स्पोर्ट्स

सुकन्या समृद्धि स्‍कीम में बेटी के जन्‍म के बाद उसके नाम पर खाता खुलवाया जा सकता है. उसके 10 साल का होने तक ऐसा किया जा सकता है.

डाउनलोड

अपने साथ की प्रतिद्वंद्वी कंपनियों के मुकाबले डॉ रेड्डीज लैब का वैल्यूएशन कम है. साथ ही बैलेंसशीट भी मजबूत है.

बैकारेट जीतने के टिप्स

अगर आप फुलटाइम घर से काम कर रहे हैं और आपकी कंपनी टेलीफोन, इंटरनेट, प्रिंटिंग और स्‍टेशनरी जैसे कुछ खर्चों को रीइंबर्स कर रही है तो आपको इन खर्चों पर टैक्‍स देने की जरूरत नहीं है.

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी