• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

परिमच नियम

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-25 21:49:10

इंडोनेशिया लॉटरी परिमच नियम betway मोबाइल नंबर,लियोवेगास कैसीनो apk,lovebet 80/1,lovebet कन्नड़,०.५ के तहत lovebet अर्थ,500 रम्मी पॉइंट सिस्टम,बैकरेट बोर्ड गेम डाउनलोड,बैकारेट सिफारिशें,बेस्ट ऑफ फाइव्स डेंटिस्ट्री,नकद सट्टेबाजी कंपनी,कैसीनो खोलना,शतरंज टी शर्ट भारत,क्रिकेट डूडल,dafabet वर्चुअल क्रिकेट,यूरोपीय कप फ्रेंच फुटबॉल बेबी,फुटबॉल विशेषज्ञ स्कोर भविष्यवाणी,जुआ परीक्षण,हैप्पी किसान वायलिन ट्यूटोरियल,भारत में indibet कानूनी है,जैकपॉट गेम.एमएल 2 अंक,नवीनतम Wynn उच्च एजेंसी वेबसाइट,लाइव रूले डबलिन,लॉटरी ऑनलाइन गेम,मा लॉटरी परिणाम,ऑनलाइन कैसीनो हैक्स,ऑनलाइन जुआ आईपीएल,ऑनलाइन स्लॉट हमें,पोकर ए 3,pokerstars.com लॉगिन,रूले व्हिस्की,रमी भाग्यशाली,श क्रिकेट बल्ले,स्लॉट्स ऑनलाइन क्यू डाओ माईस दिनहिरो,खेल वर्दी,तीन पत्ती शेर,सबसे लोकप्रिय मंच,आभासी t10 क्रिकेट,विश्व कप सट्टेबाजी साइट,असली पैसे का खेल english translation,कैटरीना धर्मशाला,खेलो पर जुआ from,जोकर जैसी फ़िल्में,पोकरा योजना महाराष्ट्र,बेटा ऋतु,लाटरी इवनिंग रिजल्ट,स्टेटस शायरी attitude, ,बुजुर्गों को मिले ज्‍यादा ब्‍याज, एससीएसएस की लिमिट बढ़ाकर ₹50 लाख की जाए

  


  

बुजुर्गों को मिले ज्‍यादा ब्‍याज, एससीएसएस की लिमिट बढ़ाकर ₹50 लाख की जाए

  बुजुर्गों को मिले ज्‍यादा ब्‍याज, एससीएसएस की लिमिट बढ़ाकर ₹50 लाख की जाए

ज्यादातर रिटायर हो चुके लोग सिर्फ फिक्‍स्‍ड इनकम ऑप्‍शन में निवेश करते हैं. इसका मतलब है कि कम ब्‍याज दरें उनके लिए फायदेमंद नहीं हैं.
31 मार्च को वित्त मंत्रालय ने छोटी बचत स्कीमों के लिए तिमाही ब्याज दरों का एलान किया. कुछ घंटे बाद ही उसने दरों को बहाल कर दिया. सरकार ने पहले ब्याज दरों में बड़ी कटौती की थी. उदाहरण के लिए सीनियर सिटीजन सेविंग्‍स स्‍कीम (एससीएसएस) की दरें 7.4 फीसदी से घटाकर 6.5 फीसदी कर दी गई थीं. पीपीएफ के मामले में दरों का 7.1 फीसदी से घटाकर 6.5 फीसदी किया गया था.

ब्‍याज दरों में कटौती का फैसला वापस होने के बाद एक सामान्‍य धारणा बनी. वह यह थी कि चुनावों को देखते हुए यह फैसला लिया गया. कुछ अर्थशास्त्रियों ने इस फैसले की आलोचना की. उनका कहना था कि ये दरें मार्केट से लिंक हैं. इन्‍हें गिल्‍ट रेट की तर्ज पर घटाना सही है. फिर ब्‍याज की दरें कितनी भी कम क्‍यों न हो जाएं.

सरकार को सुनिश्चित करना चाहिए कि सीनियर सिटीजन को ब्याज दर के मामले में स्पेशल डील मिले. कारण है कि इनके पास इनकम का कोई और जरिया नहीं होता है. अर्थव्यवस्था में ब्याज दरें घट रही हैं. पूंजी को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली स्कीमों के साथ ब्याज दरों को घटाने में बुराई नहीं है. हालांकि, एससीएसएस को इसमें अपवाद के तौर पर देखना चाहिए.

इसे भी पढ़ें : यूलिप और म्यूचुअल फंड में इन 5 बड़े अंतरों को जान लें, होगा फायदा

एससीएसएस में बुजुर्ग पैसा लगाते हैं. इसका इस्तेमाल चक्रवृद्धि ब्‍याज दर जेनरेट करने के लिए नहीं होता है. न ही दौलतमंद बनने के लिए. अलबत्ता यह इनकम के स्रोत की तरह है. स्‍कीम में निवेश करने की न्यूनतम उम्र 60 साल है. इसमें अधिकतम 15 लाख रुपये लगाया जा सकता है. इसके अलावा इंटरेस्ट इनकम पूरी तरह टैक्सेबल है.

इसे भी पढ़ें : सिप टॉप-अप फैसिलिटी के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

मेरा मानना है कि सीनियर सिटीजन सेविंग्‍स स्‍कीम पर ब्‍याज दर बढ़नी चाहिए. साथ ही इसमें निवेश की लिमिट भी बढ़ाने की जरूरत है. इसके पीछे कई कारण हैं. जहां कम महंगाई और ब्‍याज दरों का इकनॉमिक ग्रोथ पर सकारात्मक असर होता है. वहीं, रिटायर हो चुके लोगों को इसका फायदा नहीं होता है. ये कमाई और उसे बढ़ाने के दौर से निकल चुके होते हैं. ज्यादातर रिटायर हो चुके लोग सिर्फ फिक्‍स्‍ड इनकम ऑप्‍शन में निवेश करते हैं. इसका मतलब है कि कम ब्‍याज दरें उनके लिए फायदेमंद नहीं हैं. सच तो यह है कि इससे उन्‍हें नुकसान होता है. कारण है कि व्‍यक्त‍िगत महंगाई की दर हमेशा औपचारिक महंगाई की दर से ज्‍यादा होती है.

यह विडंबना है कि मार्केट-लिंकिंग की व्यवस्था की बात करने वाले उस वर्ग के लोग हैं जो वास्तव में कभी ऐसे डिपॉजिट पर निर्भर नहीं रहे हैं. इसे अमल में लाने वाले लोग भी वे हैं जो गारंटीशुदा पेंशन पाते हैं. यह महंगाई के साथ बढ़ती रहती है.

(लेखक वैल्‍यू रिसर्च के सीईओ हैं.)

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर जाएं. फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्‍ल‍िक करें
(Disclaimer: The opinions expressed in this column are that of the writer. The facts and opinions expressed here do not reflect the views of www.economictimes.com.)

टॉपिक

एससीएसएससीनियर सिटीजन सेविंग्‍स स्‍कीमबुजुर्गज्‍यादा ब्‍याजब्‍याज दरछोटी बचत स्‍कीमें

ETPrime stories of the day

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.
Modern retail

PrimeTalk invite | Blurring the lines of retail.

2 mins read
Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival
Recent hit

Why Rivigo, which hired from all sectors, is zeroing in on seasoned logistics hands for its revival

11 mins read
Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past
Investing

Realty boom, capex cycle, Unitech’s fall: what pro-cyclical investors can learn from the past

14 mins read

एनपीएस में निवेश की उम्र सीमा बढ़कर हो सकती है 70 साल!

वित्त वर्ष 2020-21 में घरेलू म्यूचुअल फंड इंडस्ट्री का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) 41 फीसदी बढ़कर 31.43 लाख करोड़ रुपये तक पहुंचई गई.हम सीनियर सिटीजन के लिए निवेश के पांच ऐसे विकल्प बता रहे हैं जिससे उनकी मेहनत की कमाई पर अच्छी नियमित आय आती रहे.नियमित आमदनी के लिए इन पांच विकल्प में निवेश कर सकते हैं सीनियर सिटीजन

नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने सोमवार को कहा कि विशेष इस्पात के लिए पीएलआई योजना के तहत निवेश करने की इच्छुक कंपनियों की चिंताओं के समाधान के लिए सचिवों के अधिकार प्राप्त समूह (ईजीएस) की बैठक बुलाई जाएगी। सिंह ने उद्योग मंडल फिक्की द्वारा यहां ‘विशेष इस्पात के लिए पीएलआई योजना’ विषय पर आयोजित संगोष्ठी में उक्त बात कही। उन्होंने कहा कि योजना का लाभ लेने वाली कंपनियों से नवंबर के दूसरे सप्ताह से आवेदन मांगे जाएंगे। सिंह ने बैठक के लिए कोई समयसीमा बताए बिना कहा कि अगर किसी हितधारक कीफ्रेंकलिन टेंपलटन के इंडियन मैनेजमेंट ने घरेलू कारोबार के लिए अपनी प्रतिबद्धता जताई थी.भारत में सड़क दुर्घटनाओं की सामाजिक-आर्थिक कीमत 15.71-38.81 अरब डॉलर: बॉश

प्राइम इंवेस्टर ने निवेशकों को फ्रैंकलिन टेम्पलटन म्यूचुअल फंड की सभी स्कीमों से निकासी करने की सलाह दी है. प्राइम इंवेस्टर चेन्नई की एक स्वतंत्र रिसर्च फर्म है.नयी दिल्ली, 25 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने टाटा संस के साथ राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया की बिक्री के लिए सोमवार को 18,000 करोड़ रुपये के एक शेयर खरीद समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस महीने की शुरुआत में सरकार ने टाटा समूह की होल्डिंग कंपनी टाटा संस की इकाई टैलेस प्राइवेट लिमिटेड द्वारा 2,700 करोड़ रुपये का नकद भुगतान करने और एयरलाइन के कुल कर्ज के 15,300 करोड़ रुपये से अधिक की जिम्मेदारी लेने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया था। उसके बाद 11 अक्टूबर को टाटा समूह को एक आशय पत्र (एलओआई) जारी किया गया था जिसमें पुष्टि की गयीहाजिर मांग के कारण कच्चातेल वायदा कीमतों में तेजी



Relevant reports:lovebet टीवी लाइव
Relevant reports:बकरा या
Relevant reports:टीआर लवबेटगिरी
Relevant reports:स्लॉट 7 कैसीनो मुक्त चिप
Relevant reports:उत्पत्ति कैसीनो साइन अप प्रस्ताव
Relevant reports:स्लॉट 247
Relevant reports:fun88asia1
Relevant reports:एक रम्मी कार्ड गेम
Relevant reports:डब्ल्यू स्पोर्ट्स
Relevant reports:आर/पोकेराइड
Relevant reports:जीके क्रिकेट टीम
Relevant reports:शतरंज ऑनलाइन
Relevant reports:रूले भविष्यवाणी कैलकुलेटर
Relevant reports:आभासी क्रिकेट बल्लेबाजी अभ्यास
Relevant reports:ऑनलाइन स्लॉट जैकपॉट जीत
Relevant reports:लॉटरी क्रिसमस ड्रा 2020
Relevant reports:आईपीएल ऑनलाइन
Relevant reports:लॉटरी 90 परिणाम
Relevant reports:स्पेस उडीसी
Relevant reports:असली पैसे जीतने के लिए स्लॉट खेल
Relevant reports:जैकबॉक्स गेम्स ट्रिविया
Relevant reports:लॉटरी 6 रुपये
Relevant reports:ऑनलाइन गेम प्लेटफॉर्म
Relevant reports:ऑनलाइन सट्टेबाजी का आकार
Relevant reports:क्लासिक रम्मी टिप्स
Relevant reports:एफए पोकर लीग
Relevant reports:मुफ्त क्लासिक रम्मी ऑनलाइन खेलें

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0